Home » सत्ता के गलियारों से

उत्तर प्रदेश का अगला मुख्यमंत्री कौन होगा?

Share 0 Link
उत्तर प्रदेश का अगला मुख्यमंत्री कौन होगा?
उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में प्रचंड बहुमत मिलने के बाद बीजेपी आलाकमान अब सूबे के नए मुख्यमंत्री को चुनने में जुट गया है. सूत्रों के मुताबिक केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह मुख्यमंत्री की दौड़ में सबसे आगे हैं. लेकिन संघ चाहता है कि पिछड़े और दलित वर्ग को भी नाराज नहीं किया जाना चाहिए. लिहाजा संतुलन बनाने के लिए पिछड़ी और दलित वर्ग से एक-एक डिप्टी सीएम भी बनाए जा सकते हैं.

वैसे यह भी कहा यह भी जा रहा है कि यूपी का सीएम कौन होगा, इस पर फैसला 20 मार्च से पहले होने की संभावना कम ही दिख रही है. 16 मार्च को यूपी विधायकों और पर्यवेक्षकों की बैठक होनी है, लेकिन इस बीच आरएसएस की प्रतिनिधि सभा की बैठक 17 से 19 मार्च तक कोयंबटूर में होनी है. लिहाजा इस दौरान संघ की राय के बगैर मुख्यमंत्री के नाम पर सहमति मिलने की संभावना कम ही दिख रही है. राजनाथ सिंह के अलावा डॉ. महेश शर्मा, केशव प्रसाद मौर्य, डॉ. दिनेश शर्मा, स्वतंत्र देव सिंह, सतीश महाना और मनोज सिन्हा भी मुख्यमंत्री की दौड़ में हैं. हालांकि, महेश शर्मा ने खुद को रेस से दूर बताते हुए कहा कि राजनाथ सिंह मुख्यमंत्री के लिए सबसे उपयुक्त चेहरा हैं. उन्होंने कहा कि संसदीय बोर्ड की बैठक में उनके नाम पर कोई चर्चा नहीं हुई. बीजेपी की बंपर जीत गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को प्रचंड बहुमत मिला. पार्टी ने 403 सीटों में से 312 सीटों पर जीत हासिल की.

समाजवादी पार्टी के साथ बहुजन समाज पार्टी भी हाशिये पर आ गई. राज्य निर्वाचन आयोग के अंतिम आंकड़ों के मुताबिक, भाजपा 312 सीटों पर जीती. बसपा को 19, सपा को 47 सीटें और कांग्रेस को महज 7 सीटों पर जीत मिली. भाजपा के सहयोगी दल भारतीय समाज पार्टी (भासपा) 4 सीटों पर और अपना दल (सोनेलाल) को 9 सीटों पर जीत मिली है. अजित सिंह के राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) को मात्र एक सीट मिली. तीन निर्दलीय उम्मीदवार जीते, जबकि निर्बल इंडियन शोषित हमारा आम दल के खाते में भी एक सीट गई.
  •  Ruchir Sharma | Quint Hindi
    Ruchir Sharma | Quint Hindi
  • Shushmita DevAt the India Today Women's Summit
    Shushmita DevAt the India Today Women's Summit