Home » सत्ता के गलियारों से

यूपी चुनाव में पीएम मोदी के लिए बनारस क्यों बना साख का सवाल?

Share 0 Link
यूपी चुनाव में पीएम मोदी के लिए बनारस क्यों बना साख का सवाल?
पूरे चुनाव में पीएम ने प्रचार के दौरान कहीं और रात नहीं गुजारी. न ही इतना समय दिया. लेकिन वाराणसी को प्रतिष्ठां का विषय बना लिया. चुनावी चक्रव्यूिह का अंतिम द्वार तोड़ने के लिए पीएम मोदी का तीन दिन काशी में ठहरना न सिर्फ विपक्षियों को अखर रहा है बल्किन कई संदेश भी दे रहा है.

पूरे चुनाव में पीएम ने प्रचार के दौरान कहीं और रात नहीं गुजारी. न ही इतना समय दिया. लेकिन वाराणसी को प्रतिष्‍ठा का विषय बना लिया. आरएसएस और बीजेपी की जंबो टीम वहां कैंप कर रही है. बनारस के कुल 8 विधानसभा सीट में अभी बीजेपी के पास 03, बीएसपी व सपा के पास 2-2 और कांग्रेस के पास एक सीट है.

बीजेपी ने अपने तीन मौजूदा विधायकों में से दो लोगों का टिकट काट दिया है. इसमें शहर दक्षिणी से सात बार विधायक रहे श्‍यामदेव राय चौधरी ‘दादा’ का टिकट भी शामिल है. टिकट बंटवारे से भाजपा कार्यकर्ताओं में उपजी नाराजगी को विपक्षियों ने खूब भुनाने की कोशिश हुई है. चुनावी चक्रव्‍यूह का अंतिम द्वार तोड़ने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी का तीन दिन काशी में ठहरना न सिर्फ विपक्षियों को अखर रहा है बल्‍कि कई संदेश भी दे रहा है
  •  Ruchir Sharma | Quint Hindi
    Ruchir Sharma | Quint Hindi
  • Shushmita DevAt the India Today Women's Summit
    Shushmita DevAt the India Today Women's Summit